Never let your demons win | Candider
demons,win
Bhoomi khabiya
Student
100% HONEST verified
Never let your demons win

Never let your demons win

खुले आसमां के दो रूप है, 

कहीं धूप तो कहीं छांव है, 

इंसान भी आसमां से कम कहा

अच्छाई और बुराई का है यह समा, 


लोग कहते हैं बुराई को छोड़ो अच्छाई को घोलो.. 

पर ऐसा मुमकिन है क्या? 

धूप के बिना परछाई का कोई आकार है कहां.. 

उसी तरह इंसान भी दो हिस्सों में में है बटा

अच्छाई के साथ बुराई से भी है घिरा... 


0 Comments
10 views